नई दिल्ली
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी गुरुवार को नेशनल हेराल्ड मामले में पूछताछ के लिए ईडी कार्यालय पहुंची थीं। इसको लेकर कांग्रेस ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर निशाना साधा। भाजपा ने भी कांग्रेस पर पलटवार किया। इसी बीच सोनिया गांधी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सोनिया गांधी कहती हैं वह किसी चीज से नहीं डरती हैं क्योंकि वह इंदिरा गांधी की बहू हैं। इस वीडियो पर कई लोगों ने कमेंट भी किया है।
 
'मैं इंदिरा जी की बहू हूं और किसी से नहीं डरती हूं…'
सोनिया गांधी के इस पुराने वीडियो को तमिलनाडु कांग्रेस कमेटी द्वारा ट्विटर हैंडल पर शेयर किया गया है। वायरल वीडियो में सोनिया गांधी कहती हैं, ''मैं इंदिरा जी की बहू हूं और किसी से नहीं डरती हूं…'' तमिलनाडु कांग्रेस कमेटी द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो में कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल भी नजर आ रहे हैं। गुरुवार को पूछताछ के लिए बाहर आईं सोनिया गांधी के साथ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा भी मौजूद थे। इस वीडियो पर कई लोगों ने सोनिया गांधी की आलोचना की है तो कई लोगों ने उनके समर्थन में लिखा है। वीडियो पर 15 हजार से अधिक व्यूज है।
 
2015 का है वायरल वीडियो
सोनिया गांधी का ये वायरल वीडियो साल 2015 के दिसंबर महीने का है। सोनिया गांधी ने उस वक्त जो कहा वह नेशनल हेराल्ड मामले से भी जुड़ा था। 2015 में भी सोनिया गांधी का ये वीडियो खूब वायरल हुआ था और चर्चा का विषय बन गया था।
 
'अगर किसी ने नहीं डरती हैं, तो ईडी के सामने क्यों जाने में देरी की…?'
इस वीडियो पर कई लोगों ने कमेंट कर पूछा है कि अगर आप किसी से डरती नहीं तो ईडी के सामने क्यों जाने में देरी की। एक यूजर ने लिखा,''इसलिए ईडी के सामने जाने की हिम्मत नहीं हो रही थी, पहले ईवीएम पर सवाल और अब ईडी पर सवाल।'' एक यूजर ने कमेंट कर लिखा, ''ये तो सत्तारुढ़ पार्टी को शानदार जवाब है।'' वहीं कई लोगों ने कमेंट कर सोनिया गांदी जिंदाबाद लिखा है। इस वीडियो पर कमेंट में मिली-जुली प्रतिक्रिया है।
 
सोनिया गांधी पहले दी गई तारीखों पर नहीं गई पूछताछ में
सोनिया गांधी पहले दी गई तारीखों में जांच में शामिल नहीं हो सकीं क्योंकि उन्हें कोविड -19 मिला था। कांग्रेस ने सरकार द्वारा एजेंसियों के "दुरुपयोग" के विरोध में गुरुवार को देशव्यापी आंदोलन की योजना बनाई है। गुरुवार (21 जुलाई) की सुबह बीजेपी और कांग्रेस में वाकयुद्ध शुरू हो गया क्योंकि कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ने मीडिया के प्रवेश को रोकते हुए 24 अकबर रोड पर पार्टी मुख्यालय को पहले ही बंद कर दिया था।
 
बैक-टू-बैक किए गए प्रेस कॉन्फ्रेंस
बैक-टू-बैक प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा और कांग्रेस ने सोनिया गांधी से पूछताछ को लेकर एक-दूसरे के खिलाफ आरोप-प्रत्यारोप लगाए। कांग्रेस के विरोध की निंदा करते हुए, भाजपा नेता आरएस प्रसाद ने कहा कि जब नरेंद्र मोदी को गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में सवालों का सामना करना पड़ा, तो नई दिल्ली में कोई विरोध नहीं हुआ, गुजरात में भी नहीं, क्योंकि भाजपा एजेंसियों का सम्मान करती है, जबकि कांग्रेस लगातार इन एजेंसियों के कामकाज सवाल उठा रही है।