नाहन
हिमाचल प्रदेश में आकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उन योजनाओं को लागू करने की बात कर रहे हैं। जो उनके प्रदेश में आज तक लागू नहीं हुई। यह उदगार मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के पझोता में आजादी के अमृत महोत्सव व हिमाचल गठन के 75 वर्ष के उपलक्ष में जनसभा को संबोधित करते हुए कहे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल को मजबूत नेतृत्व की जरूरत है। मजबूत नेतृत्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सहयोग से हिमाचल की जनता को मिल रहा है। भविष्य में हिमाचल में फिर से भाजपा सरकार बने, इसके लिए प्रदेश की जनता को रिवाज बदलना होगा। जब देश के उत्तराखंड, यूपी, हरियाणा व गोवा राज्यों में रिवाज बदल सकता है, तो हिमाचल में भी इस बार बदलेगा। भाजपा मिशन रिपीट करेगी। गुजरात में लगातार पांचवीं बार भाजपा सरकार अपना कार्यकाल चला रही है, आने वाले विस चुनाव में वहां पर भाजपा छठी बार सत्ता में आएगी। मुख्यमंत्री ने बिना नाम लेते हुए कांग्रेसी विधायक पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि बड़े-बड़े लोग भी हिमाचल में मिशन रिपीट नहीं करवा पाए। यहां तक कि राजा साहब भी नहीं करवा पाए। तो जयराम किस खेत की मूली है। मुख्यमंत्री जयराम ने कहा कि कोई आदमी छोटा या बड़ा नहीं होता है, कई बार छोटा आदमी भी बड़े काम कर जाता है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि उन्होंने इन 5 वर्षों में हिमाचल प्रदेश में सात लाख लोगों की पेंशन शुरू की है। बड़े आदमी गरीबों का दर्द नहीं समझते हैं। गरीब परिवार का व्यक्ति ही प्रदेश की गरीब जनता का दर्द समझ सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बाहरी राज्यों से आकर कुछ लोग प्रदेश की जनता को गुमराह कर रहे हैं। मगर प्रदेश की जनता को गुमराह नहीं होना है।
मुख्यमंत्री ने अपने एक घंटे के भाषण में कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पझोता क्षेत्र आजादी के संघर्ष में आंदोलन के लिए जाना जाता है। इस क्षेत्र के लोगों ने स्वतंत्रता के आंदोलन में बढ़-चढ़कर भाग लिया था। यह एक ऐतिहासिक घटना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पच्छाद विधानसभा क्षेत्र की जनता ने उनसे जो मांगा, उन्होंने दिया। उन्होंने कोई एहसान नहीं किया। यह एक मुख्यमंत्री के नाते उनका दायित्व था, जो उन्होंने निभाया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि वह प्रदेश भर में घूम रहे हैं, तो मैंने कहा कि हम प्रदेश के विकास में 75 वर्षों में प्रदेश के जिस भाई बहन ने अपना योगदान दिया है, उनका धन्यवाद करने जा रहा हूं। जयराम ठाकुर ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई को आभार जताते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश में आज जो 40 हजार किलोमीटर सड़कों का निर्माण हुआ है। उसमें से 20 हजार सड़कों का निर्माण प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत हुआ है। कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री का नाम लिए बगैर जयराम ठाकुर ने कहा कि पूर्व में ऐसे भी कई प्रधानमंत्री रहे हैं, जो हिमाचल को नगर पालिका की तरह समझते थे। यह प्रदेश छोटा जरूर है। मगर इसके कार्य बहुत बड़े हैं। इस प्रदेश के वीर देश के लिए कई बार कुर्बान हो चुके हैं। हिमाचल निर्माता डॉ वाईएस परमार अधिकतर पैदल चलते थे। मगर में दावे से कह सकता हूं कि हिमाचल में मुझसे ज्यादा पहाड़ किसी ने नहीं चढ़े होंगे। कांग्रेस के कुछ मित्र कह रहे हैं कि हम आने वाले हैं, आएंगे कैसे। जब हम उन्हें आने ही नहीं देंगे। जयराम ठाकुर ने कहा कि सिरमौर की जनता ने मुझे मामा बनाया है, तो मैंने भी भांजो का ख्याल रखा है। जल्द ही हम गिरिपार क्षेत्र के लोगों के हाटी समुदाय को जनजातीय दर्जा देने की मांग को पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि कुछ विपक्ष के लोग अनुसूचित जाति के भाइयों को गुमराह कर रहे हैं। मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं कि वह गुमराह ना हो, जनजातीय दर्जा मिलने पर उनके अधिकारों की रक्षा की जाएगी।