भोपाल
वर्तमान में 4 वेदर सिस्टम एक्टिव है, जिसके चलते प्रदेश में बारिश का दौर जारी है। दो-तीन दिन तक भोपाल, इंदौर, जबलपुर, नर्मदापुरम, सागर संभागों के जिलों में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। वही 12 जुलाई मंगलवार से कम दबाव के क्षेत्र के आगे बढ़ने से बारिश की गतिविधियों फिर तेजी आएगी।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Update ) के अनुसार, अगले दो दिन उज्जैन से लगे इंदौर जिले के सांवेर व अन्य हिस्सों में हल्की वर्षा होने की संभावना है। 12 जुलाई को बंगाल की खाड़ी में सिस्टम बन रहा है, इसके असर से इंदौर में झमाझम बारिश होने की संभावना है। आगामी करीब पांच दिनों तक जबलपुर सहित संभाग के कटनी, छिंदवाड़ा, सिवनी, डिंडौरी में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती है।ग्वालियर में 13 जुलाई से झमाझम बारिश की संभावना है।

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Forecast ) के अनुसार, वर्तमान में 4 वेदर सिस्टम एक्टिव है। वर्तमान में ओडिशा और उसके आसपास एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। मानसून ट्रफ बीकानेर, कोटा, सागर से पेंड्रा रोड से होकर बंगाल की खाड़ी तक बना हुआ है। कर्नाटक से लेकर गुजरात तक अपतटीय ट्रफ मौजूद है। इसके अतिरिक्त महाराष्ट्र पर विपरीत दिशा की हवाओं (पूर्व-पश्चिम) का टकराव हो रहा है। अभी दो-तीन दिन तक भोपाल, इंदौर, जबलपुर, नर्मदापुरम, सागर संभागों के जिलों में वर्षा होने का सिलसिला बना रहेगा। मंगलवार से कम दबाव के क्षेत्र के आगे बढ़ने से बारिश की गतिविधियों में और तेजी आएगी।