वाराणसी
प्रधानमंत्री द्वारा वाराणसी में आज 1774 करोड़ की 43 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया जाएगा। इन योजनाओं में प्रधानमंत्री आवास योजना भी शामिल है। हरहुआ ब्लाक के दासेपुर गांव में बने प्रधानमंत्री आवास का आज दोपहर में प्रधानमंत्री द्वारा उद्घाटन किया जाएगा। प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को इसका लंबे समय से इंतजार था। दासेपुर गांव में वीडीए की देखरेख में पीपीपी मॉडल पर 608 फ्लैट का निर्माण प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत करवाया गया है। प्रधानमंत्री द्वारा इसका उद्घाटन किए जाने के बाद स्वामित्व संबंधी प्रपत्र लाभार्थियों को सौंपा जाएगा।
 
दासेपुर में चार मंजिल में बनाए गए हैं 608 फ्लैट
 
केंद्र सरकार की तरफ से स्वीकृत डीपीआर और वीडीए से स्वीकृत मानचित्र के आधार पर श्री साईबाबा इंफ्रा प्रोजेक्ट प्रा. लि. की ओर से गाजीपुर गांव में 4 मंजिल में कुल 608 फ्लैट का निर्माण कराया गया है। इन फ्लैट में दो कमरे, रसोई, स्नानागार व शौचालय भी बनवाए गए हैं। इसके अलावा पार्किंग, एसटीपी, स्ट्रीट लाइट, रेन वाटर हार्वेस्टिंग की भी व्यवस्था है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनवाए गए यह फ्लैट बिल्कुल हाईटेक हैं। इस योजना में लाभार्थियों द्वारा पहले ऑनलाइन फॉर्म भरा गया उसके बाद वीडीए द्वारा लाटरी के माध्यम से भवनों का आवंटन किया गया।

 कभी नहीं सोचे थे कि अपना भी आवास होगा

प्रधानमंत्री आवास की लाभार्थी ममता देवी ने बताया कि हम यह सोच कर परेशान होते थे कि बच्चों को कैसे रखेंगे, मकान का किराया देंगे या बच्चों को पढ़ाएंगे। प्रधानमंत्री आवास योजना में फ्लैट मिल जाने के बाद अब इन चिंताओं से मुक्ति मिल गयी। इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया। इसी तरह लाभार्थी मंजू यादव ने कहा कि मैं कभी नहीं सोची थी कि अपना छत होगा, लेकिन प्रधानमंत्री की वजह से उनको अपना छत मिल गया। अजय कुमार यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में वह सारी सुविधाएं हैं जिनकी उन्हें आवश्यकता थी।
 

इस योजना के लाभार्थियों को भवनों का स्वामित्व सौंपने के लिए पिंडरा तहसील में रजिस्टर्ड अनुबंध कराया जाना भी प्रारंभ हो गया है। बुधवार को नीलू देवी, पूनम देवी, ममता देवी, विनोद कुमार जायसवाल, अजय कुमार यादव और सैफ अली अंसारी के पक्ष में स्वामित्व की रजिस्ट्री कराई गई। वीडीए के अधिकारियों ने बताया कि बुधवार को 6 लाभार्थियों को स्वामित्व संबंधित कागजात सौंपे गए। आवश्यक प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद अन्य लाभार्थियों को भी संबंधित कागजात सौंप दिए जाएंगे।