नई दिल्ली
 द‍िल्‍ली में ग्रीन कवर एर‍िया (Green Cover Area) को बढ़ाने के ल‍िए लगातार प्रयास क‍िए जा रहा हैं. केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) की ओर से 11 जुलाई से वन महोत्‍सव (Van Mahotsav) मनाया जा रहा है जोक‍ि आगामी 24 जुलाई को समाप्‍त होगा. समापन समारोह में द‍िल्‍ली के उपराज्‍यपाल वीके सक्‍सेना (VK Saxena) और मुख्‍यमंत्री अरव‍िंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) श‍िरकत करेंगे. इस द‍िन पर्यावरण एवं वन व‍िभाग की ओर से असोला भाटी माइंस (Asola Bhati Mines) में एक लाख पौधे लगाने की तैयारी है.

दिल्ली के पर्यावरण एवं वन मंत्री गोपाल राय ने आज वन विभाग के अधिकारियों के साथ वन महोत्सव को लेकर समीक्षा बैठक की. उन्होंने बताया कि केजरीवाल सरकार द्वारा उठाए गए तमाम उपायों के परिणामस्वरूप दिल्ली के अंदर हरित क्षेत्र (ग्रीन कवर) में काफी इजाफा देखा गया है. दिल्ली में जहां साल 2013 में हरित क्षेत्र 20 फीसद था वह केजरीवाल सरकार के प्रयासों के कारण, साल 2021 में बढ़कर 23.06 फीसदी हो गया.

 

इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए समर एक्शन प्लान के 14 बिन्दुओं में शामिल वृक्षारोपण महाअभियान को गति देने के लिए 11 जुलाई से वन महोत्सव की शुरुआत सेंट्रल रिज से की गई. 15 दिनों तक चलने वाले इस समारोह का समापन 24 जुलाई को असोला भाटी माइन्स में 1 लाख से अधिक पौधों को लगाकर किया जाएगा. इस समापन समारोह के दौरान दिल्ली के उप-राज्यपाल वीके सक्‍सेना (VK Saxena) तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरव‍िंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) शामिल रहेंगे. इस साल वन महोत्सव में लगभग 10 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य तय किया गया है.

उन्होंने बताया कि दिल्ली के ग्रीन बेल्ट को बढ़ाने और दिल्ली के प्रदूषण को कम करने के लिए हर साल वृक्षारोपण अभियान चलाया जा रहा है. इस साल वृक्षारोपण महाअभियान के तहत 35 लाख से अधिक पौधे लगाने का लक्ष्य तय किया गया है जिसे सभी सम्बंधित 19 विभागों की हरित एजेंसी द्वारा पूरा किया जाएगा.

पर्यावरण एवं वन मंत्री गोपाल राय ने दिल्ली के लोगो से अपील कि की दिल्ली के हरित क्षेत्र को बढ़ाने के लिए वे इस वन महोत्सव में शामिल हों और कम-से-कम एक पौधा जरूर लगांए.