मानसून में स्किन को खास देखभाल की जरूरत पड़ती है। इस चिपचिपे और उमस भरे मौसम में स्किन से जुड़े कई प्रॉब्लम्स आते हैं। इसलिए इस दौरान स्किन से जुड़ी किसी भी गलती से बचना चाहिए। आइए हम आपको स्किन से जुड़े कुछ टिप्स बताते हैं जो इस मौसम में भी इसे चमकदार और खूबसूरत बनाकर रखेगा।

हैवी मेकअप करना
स्किन स्पेशलिस्ट की मानें तो बारिश के मौसम में हैवी मेकअप से बचना चाहिए। मानसून में मुंहासे ज्यादा निकलते हैं। इसलिए जरूरी है कि हैवी मेकअप और लोशन से दूर रहें। स्किन की देखभाल के लिए AHA (alpha hydroxy acid) और BHA (beta hydroxy acid) युक्त हल्का  मॉइस्चराइज़र इस्तेमाल करें। इसके साथ सनस्क्रीन भी लगाना चाहिए।

अधिक पसीने और नमी के कारण मेकअप त्वचा में चिपक जाता है। जिसकी वजह से रोम छिद्र बंद हो सकता है। इसकी वजह से मुंहासे निकलने लगेंगे। इसलिए अगर कहीं जाना हो तो हल्का मेकअप करें।
स्किन को अच्छी तरह साफ करें। दिन में दो बार स्नान करना चाहिए।

सनस्क्रीन नहीं लगाना
सनस्क्रीन स्किनकेयर रूटीन का एक अनिवार्य हिस्सा है और इसे पूरे साल इस्तेमाल करना चाहिए। सनस्क्रीन सिर्फ गर्मियों के लिए नहीं हैं। इसे मानसून में भी लगाना चाहिए। त्वचा विशेषज्ञ इसके पीछे की वजह बताते हैं कि भले ही मानसून में सूरज की रोशनी हार्ड नहीं होती है। लेकिन यूवी किरणें बादलों के जरिए प्रवेश करके त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए घर के अंदर हो या बाहर सनस्क्रीन जरूर लगाएं।पानी और सिलिकॉन आधारित सनस्क्रीन मानसून के लिए अच्छा है।

मॉइस्चराइजर नहीं लगाना
नियमित रूप से अपने सनस्क्रीन का उपयोग करने के अलावा, आपको मानसून के दौरान अपनी त्वचा पर मॉइस्चराइजर लगाना भी जारी रखना चाहिए। बहुत से लोग मानसून में इसे नहीं लगता हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए। वातावरण में नमी है और आपकी त्वचा शुष्क महसूस नहीं करती है, इसका मतलब यह नहीं है कि स्किन को मॉइस्चराइजर की आवश्यकता नहीं है।  मॉइस्चराइज़र स्किन को सॉफ्ट करने के साथ-साथ पर्यावरणीय क्षति से बचाते हैं और इसे स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

पर्याप्त पानी नहीं पीना
मानसून के दौरान आपको एक और महत्वपूर्ण गलती से बचना चाहिए। वह है अपने पानी के सेवन को गंभीरता से नहीं लेना।मानसून में किसी को प्यास नहीं लग सकती है, लेकिन याद रखें कि आपके शरीर का अधिकांश भाग पानी है और इसलिए, कम पानी होने से आपकी त्वचा भीतर से निर्जलित हो सकती है। हर दिन 8-10 गिलास पानी पिएं। यह आपकी त्वचा को हाइड्रेट और ग्लोइंग रखने में मदद करता है। पानी शरीर से विषाक्त पदार्थों को भी बाहर निकालता है और आपकी त्वचा के छिद्रों को साफ करता है।

तैलीय खाना
मानसून का मौसम में चटपटा और मसालेदार खाने का मन करता है। लेकिन इससे बचना चाहिए। यह स्किन और हेल्थ को नुकसान इस मौसम में पहुंचा सकते हैं। इसकी बजाय मौसमी फलों का सेवन ज्यादा करें।चेरी, प्लम, आड़ू, लीची, अनार, जामुन आदि मेंआवश्यक फाइटोन्यूट्रिएंट्स, विटामिन और खनिजों से भरे होते हैं जो एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करते हैं और आपकी त्वचा को आंतरिक रूप से पोषण देते हैं।