भोपाल
भेल टाउनशिप के पिपलानी गांधी मार्केट में बने पाथवे से फ्रर्सियां गायब हो गई है। इसके चलते राहगीरों को मजबूरी वश सड़क पर चलना पड़ता है। इससे हादसे की आशंका बनती रहती है। व्यापारी बताते हैं कि सड़क पर चलने के कारण कई बार राहगीरों के साथ सड़क हादसे हो चुके हैं। सड़क से निकलने वाले वाहन अक्सर साइट में चल रहे राहगीरों से टकरा जाते हैं। इस बार में कई बार भेल नगर प्रशासक से शिकायत की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। राहगीरों के साथ आए दिन हादसे होना आम बात हो गई है। पाथवे में लगी फ्रर्सियों के कारण पाथवे पक्का था, लेकिन जब से फर्सियां गायब हुई है। राहगीर पाथवे पर चल नहीं पाते। फर्सियों के गायब होने से पाथवे ऊंचा नीचा हो गया है। इस पर चलने पर लोग अक्सर गिर जाते हैं। हालांकि यह हाल सिर्फ पिपलानी मार्केट पाथवे का नहीं है। जबसे भेल नगर प्रशासन ने टाउनशिप पर ध्यान देना बंद किया है। तब से टाउनशिप के अधिकतर मार्केटों के पाथवे जर्जर हो गए हैं। भेल के पीआरओ राघवेंद्र शुक्ला का कहना हैं कि टाउनशिप में फैली अव्यवस्थाओं को धीरे-धीरे पटरी पर लाया जा रहा है। जल्द ही समस्त दिक्कतें दूर होेंगी।