एजबेस्टन
        
 
भारत और इंग्लैंड के बीच जारी एजबेस्टन टेस्ट का चौथा दिन खत्म हो गया है और अब हर किसी की नज़र पांचवें दिन पर है. चौथे दिन की शुरुआत में भारतीय टीम जहां मजबूत दिख रही थी, वहीं दिन का खेल खत्म होते-होते मैच पूरी तरह इंग्लैंड की जेब में पहुंच गया है. इंग्लैंड को टेस्ट मैच जीतने के लिए आखिरी दिन सिर्फ 119 रनों की ज़रूरत है और उसके पास अभी भी 7 विकेट बाकी हैं.

अगर इंग्लैंड इस लक्ष्य को हासिल कर लेता है, तो यह ऐतिहासिक रन चेज़ होगी. साथ ही यह सीरीज़ ड्रॉ पर खत्म होगी, क्योंकि अभी पांच टेस्ट मैच की सीरीज़ में टीम इंडिया 2-1 से आगे है. पिछले साल यह सीरीज़ हुई थी, लेकिन आखिरी मैच कोरोना के कारण नहीं हो सका था जिसे अब करवाया गया है.

बेयरस्टो और रूट ने एक तरफा कर दिया मैच

एजबेस्टन टेस्ट अब एक तरफा हो गया है. जॉनी बेयरस्टो और जो रूट की शतकीय साझेदारी ने टीम इंडिया से मैच बहुत दूर पहुंचा दिया है. पहले इंग्लैंड को शानदार शुरुआत मिली और ओपनिंग जोड़ी ने 107 रनों की पार्टनरशिप की. इसके बाद भारत ने मैच में वापसी की और 2 रन के अंतर पर ही तीन विकेट झटक लिए.

लेकिन इसके बाद क्रीज़ पर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जो रूट और जबरदस्त फॉर्म में चल रहे जॉनी बेयरस्टो आए. पहले दोनों ने पारी को जमाया और उसके बाद रनों की रफ्तार बढ़ाई. चौथे दिन का खेल खत्म होने तक दोनों के बीच 150 रनों की साझेदारी हो गई है. जो रूट 76 और जॉनी बेयरस्टो 72 रन पर नाबाद हैं.

भारत की बल्लेबाजी ने दिया धोखा

टीम इंडिया ने दूसरी पारी में 245 का स्कोर बनाया और इंग्लैंड को जीत के लिए 378 रनों का लक्ष्य दिया. ये लक्ष्य बड़ा है, लेकिन इंग्लैंड की टीम जितना बदल गई है उस हिसाब से ये इसे पार करना मुमकिन था. अगर टीम इंडिया की बैटिंग की बात करें तो चेतेश्वर पुजारा और ऋषभ पंत ने ही फिफ्टी जमाई, उनके अलावा रवींद्र जडेजा ने कुछ दम दिखाया.

भारत को बीते दिन तक 257 रनों की बढ़त थी, लेकिन टीम इंडिया इसे बहुत ज्यादा नहीं बढ़ा पाई. दूसरे दिन टीम इंडिया को लगातार झटके पर झटके लगे. भारत का चौथा विकेट 153 पर गिरा था और बाद में हर कुछ देर के बाद विकेट गिरे और टीम इंडिया 245 पर ऑलआउट हो गई.

आपको बता दें कि भारत ने इस मैच की पहली पारी में 416 का बड़ा स्कोर बनाया था, ऋषभ पंत और रवींद्र जडेजा के शतक की बदौलत टीम इंडिया इतना बड़ा स्कोर बना पाई. इंग्लैंड ने पहली पारी में 284 रन बनाए, जॉनी बेयरस्टो शतक जड़कर टीम के स्टार साबित हुए. भारत को पहली पारी में 132 रनों की बढ़त मिली थी.