फ्रांसिस्को
 दुनिया के सबसे अमीर इंसान एलन मस्‍क (Elon Musk) अब Twitter नहीं खरीदेंगे। एलन मस्क ने शुक्रवार को घोषणा की कि वह ट्विटर को खरीदने के लिए 44 बिलियन डॉलर की अपनी पेशकश को छोड़ देंगे, क्योंकि कंपनी नकली खातों की संख्या के बारे में पर्याप्त जानकारी मुहैया कराने में विफल रही है। वहीं ट्विटर ने तुरंत यह कहते हुए प्रत‍िक्र‍िया दी क‍ि वह इस सौदे को बनाए रखने के लिए टेस्ला के सीईओ पर मुकदमा करेगा।

अरबपति टेस्ला प्रमुख की टीम की ओर से ट्विटर को भेजे गए एक पत्र के अनुसार, एलन मस्क खरीद समझौते के कई उल्लंघनों का हवाला देते हुए ट्विटर को खरीदने के लिए अपने 44 बिलियन अमरीकी डालर के सौदे को समाप्त कर रहे हैं। पत्र में कहा गया क‍ि मस्क विलय समझौते को समाप्त कर रहे हैं क्योंकि ट्विटर उस समझौते के कई प्रावधानों का उल्लंघन कर रहा है।

दरअसल अप्रैल में मस्क ने ट्विटर के साथ 54.20 डॉलर प्रति शेयर के हिसाब से लगभग 44 बिलियन डॉलर के लेनदेन में अधिग्रहण समझौता किया। हालांकि, मस्क ने मई में अपनी टीम को ट्विटर के इस दावे की सत्यता की समीक्षा करने की अनुमति देने के लिए सौदे को रोक दिया कि प्लेटफॉर्म पर 5% से कम खाते बॉट या स्पैम हैं।

द वर्ज की रिपोर्ट के अनुसार, मस्क ट्विटर को खरीदने के अपने प्रयास में अकेले नहीं जा रहे थे, लैरी एलिसन, वेंचर कैपिटल फर्म आंद्रेसेन होरोविट्ज, फिडेलिटी, क्रिप्टो एक्सचेंज बाइनेंस और कतर की राज्य निवेश फर्म जैसे कुछ अरबों में पिचिंग करने वालों में से हैं। रिपोर्ट में कहा गया कि यह विचार कि सौदे पर दिशा में ‘कठोर’ बदलाव होने के करीब है, माना जाता है कि प्लेटफॉर्म पर स्पैम और बॉट्स के बारे में ट्विटर का डेटा सत्यापन योग्य नहीं है। मंच ने कथित तौर पर दावा किया कि यह हर दिन 1 मिलियन स्पैमर्स को ब्लॉक करता है। पिछले महीने मस्क ने कहा था कि अगर ट्विटर स्पैम और फर्जी खातों पर डेटा देने में विफल रहता है, तो वह अपने 44 अरब डॉलर के अधिग्रहण समझौते से बाहर निकल सकता है।

ट्विटर ने 30 फीसदी कर्मचारियों को निकाला
इससे पहले माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर ने एलन मस्क की ओर से 44 अरब डॉलर के अधिग्रहण के बीच 30 प्रतिशत कर्मचारियों की छंटनी की है। हालांक‍ि अब सौदा अटक गया है। एक ट्विटर प्रवक्ता ने बिना अधिक विवरण या प्रभावित कर्मचारियों की संख्या का खुलासा किए छंटनी की पुष्टि की।