नईगढ़ी मऊगंज तथा हनुमना में पंचायत चुनाव का मतदान एवं मतगणना संपन्न

तीन बजे तक नईगढ़ी में 56.79, मऊगंज में 58.86 तथा हनुमना में 56.03 प्रतिशत हुआ मतदान

रीवा
जिले में पंचायतराज संस्थाओं के चुनाव में प्रथम चरण का मतदान एवं मतगणना शांतिपूर्वक संपन्न हुई। प्रथम चरण में विकासखण्ड नईगढ़ी, मऊगंज तथा हनुमना में 256 ग्राम पंचायतों में बनाए गए 863 मतदान केन्द्रों में जिला पंचायत सदस्य, जनपद सदस्य, ग्राम पंचायत के सरपंच एवं पंच पदों के लिए मतदान संपन्न हुआ। मतदान संपन्न होने के बाद इन सभी पदों के लिए मतगणना का कार्य भी मतदान केन्द्रों में संपन्न कराया गया। तीनों विकासखण्डों के विभिन्न पदों के मतों का सारणीकरण करके 14 जुलाई को चुनाव परिणामों की घोषणा की जाएगी।

निर्धारित मतदान केन्द्रों में प्रात: 7 बजे से मतदान का कार्य आरंभ हुआ। प्रात: 9 बजे तक विकासखण्ड नईगढ़ी में 11.43 प्रतिशत मतदान हुआ। नईगढ़ी में प्रात: 11 बजे तक 37.09 प्रतिशत तथा दोपहर एक बजे तक 42.32 प्रतिशत मतदान हुआ। विकासखण्ड मऊगंज में प्रात: 9 बजे तक 13.43 प्रतिशत, प्रात: 11 बजे तक 27.77 प्रतिशत तथा दोपहर एक बजे तक 44.59 प्रतिशत मतदान हुआ। विकासखण्ड हनुमना में प्रात: 9 बजे तक 11.04 प्रतिशत, प्रात: 11 बजे तक 26 प्रतिशत एवं दोपहर एक बजे तक 41.05 प्रतिशत मतदान हुआ। नईगढ़ी विकासखण्ड में मतदान केन्द्र क्रमांक 40 रामपुर भोती में लकवाग्रस्त 97 साल की महिला मतदाता लखरजुआ तिवारी ने अपने परिजनों के साथ मतदान केन्द्र पहुंचकर मतदान किया। तीनों विकासखण्डों में पुरूषों की तुलना में महिला मतदाताओं का मतदान प्रतिशत अधिक रहा।

मतदान के समय प्रेक्षक श्री आरआर गंगारेकर सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी ने विभिन्न मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मनोज पुष्प, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन तथा जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े ने दिन भर भ्रमण कर मतदान के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के प्रयास किए। मतदान के दौरान 62 मोबाइल दलों ने लगातार भ्रमण कर निर्वाचन कार्यों की कानून व्यवस्था की निगरानी की। मतदान के दौरान एसडीएम मऊगंज एपी द्विवेदी, एसडीएम हनुमना एके सिंह, एसडीओपी त्योंथर समरजीत सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार लाल तथा अन्य राजस्व एवं पुलिस अधिकारी तैनात रहे।

मतदान के दौरान सुबह से ही लगभग सभी मतदान केन्द्रों में मतदाताओं की लंबी-लंबी कतारें देखी गर्इं। अधिकांश मतदान केन्द्रों में कुछ मतदाताओं की तुलना में महिला मतदाताओं की संख्या अधिक रही। कई बुजुर्ग मतदाताओं ने अपने परिवारजनों तथा सहयोगियों के साथ मतदान केन्द्र पहुंचकर अपने मताधिकार का उपयोग किया। जिले में लगभग 7 साल के अंतराल के बाद हो रहे पंचायत चुनाव में मतदाताओं का अभूतपूर्व उत्साह देखा गया। कई दिव्यांग मतदाताओं ने भी अपने मताधिकार का उपयोग किया। दोपहर एक से दो बजे के बीच नईगढ़ी, देवतालाब, मऊगंज एवं अन्य क्षेत्रों में लगभग 20 मिनटों तक तेज बारिश होने से मतदान की गति धीमी हुई। बारिश रूकने के बाद पुन: मतदान में तेजी आई।

मतदान का निर्धारित समय दोपहर 3 बजे के बाद भी कई मतदान केन्द्रों में बड़ी संख्या में मतदाता मतदान के लिए कतार में खड़े रहे। शाहपुर मतदान केन्द्र में दोपहर 3.15 बजे लगभग 300 मतदाताओं की कतार लगी हुई थी। पीठासीन अधिकारियों ने नियमानुसार पर्ची देकर इन सभी मतदाताओं को मतदान का अवसर दिया। जिन मतदान केन्द्रों में भीड़ थी उनमें अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर शांतिपूर्वक मतदान तथा मतगणना का कार्य संपन्न कराया गया।