नई दिल्ली
हर्ष विहार इलाके में मोटरसाइकिल सवार तीन बदमाशों ने एक व्यक्ति के घर के बाहर ताबड़तोड़ गोलियां चला दी। बदमाशों को शक था कि व्यक्ति पुलिस का मुखबीर है। बदमाशों ने गोलियां बरसाने के बाद पीडि़त को जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए। आबिद की शिकायत पर पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। पुलिस को मौके से कुछ खाली कारतूस मिले हैं। बदमाशों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। आबिद अपने परिवार के साथ मंडोली एक्स्टेंशन में रहता है। वह ट्रैक्टर से रेत की ढुलाई करता है। शुक्रवार रात को वह अपने घर में सो रहा था, रात करीब 12:30 बजे घर के बाहर जोर-जोर से चिल्लाने की आवाज से उसकी आंख खुल गई। उसने खिड़की से बाहर देखा तो गोलू, विनय और अरुण नाम के तीन युवक मोटरसाइकिल लेकर खड़े हैं, हाथ में पिस्टल लेकर उसे गोलियां देकर बाहर आने की धमकी दे रहे हैं ।

जब वह घर से बाहर नहीं निकला तो बदमाशों ने गोलियां चला दी। गनीमत रही गोली किसी को लगी नहीं। बदमाश बार-बार चिल्लाकर कह रहे थे वह पुलिस का मुखबीर है, उनकी मुखबरी पुलिस से करता है। वह उसे छोड़ेंगे नहीं। बदमाश मौके से फरार होने पहले उसे धमकी देकर गए वह अगर घर से बाहर कहीं मिला तो वह उसकी हत्या कर देंगे। उधर, ज्योति नगर इलाके में डिवाइडर से टकराकर एक मोटरसाइकिल सवार की मौत हो गई। मृतक की पहचान इकबाल मलिक के रूप में हुई है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन को सौंप दिया है। पुलिस वारदात स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है।

इकबाल अपने परिवार के साथ मुस्तफाबाद स्थित नेहरू विहार में रहते थे। परिवार में पिता, मां, पत्नी व अन्य सदस्य हैं। वह शुक्रवार को अपनी मोटरसाइकिल से लोनी से दिल्ली आ रहे थे, जब वह लोनी रोड स्थित एमआइजी फ्लैट के पास पहुंचे। अचानक से उनकी मोटरसाइकिल डिवाइडर से टकरा गई। राहगीरों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घायल को जीटीबी अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।