नई दिल्ली
राजस्थान के भरतपुर में पहाड़ियों से अवैध खनन बंद करने को लेकर लंबे समय से आंदलन कर रहे साधु विजय दास ने बुधवार को आत्मदाह कर लिया था। साधु को गंभीर हालत में भरतपुर से दिल्ली के अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। आज तड़के विजय दास का निधन हो गया। विजय दास का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज चल रहा था। उनके पार्थिव शरीर को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है।
 
भरतपुर पहाड़ी के एसडीओ संजय गोयल ने बताया कि बीती 21 जुलाई को आत्मदाह करने वाले साधु विजय दास की शुक्रवार की देर रात इलाज के दौरान मौत हो गई है। दास का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज चल रहा था। गोयल ने बताया कि शनिवार सुबह दास के पार्थिव शरीर को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है।