नई दिल्ली
 
दिल्ली पुलिस ने एक कपल को उस समय गिरफ्तार किया है जब वे दोनों अपनी कार में चरस के साथ पकड़े गए। आरोप है कि दोनों मिलकर दिल्ली विश्वविद्यालय कैंपस समेत उत्तरी दिल्ली में चरस की तस्करी करते थे। इतना ही नहीं हैरानी की बता यह भी है कि इनके पास से एक किलो दस ग्राम चरस बरामद हुई है। बरामद चरस की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करीब एक करोड़ रुपये बताई गई है।

दरअसल, यह घटना दिल्ली विश्वविद्यालय के नार्थ कैंपस की है। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक क्राइम ब्रांच के डीसीपी रोहित मीणा ने बताया कि इंस्पेक्टर मंगेश त्यागी की टीम को सूचना मिली कि एक कपल दिल्ली विश्वविद्यालय कैंपस में चरस सप्लाई करता है। सूचना मिली कि कपल हिमाचल से चरस की खेप लेकर दिल्ली आ रहा है। सूचना के आधार पर पुलिस ने सिंघु बॉर्डर पर ट्रैप लगा दिया।

फिर बताया जा रहा है कि इसके बाद मुखबिर द्वारा कार को पहचानने के बाद लगभग 45 मिनट पीछा करने के बाद कार को रुकवा लिया गया। पीछा कर रही पुलिस की टीम ने ओल्ड गुप्ता कॉलोनी चौक निवासी शुभम और उसकी महिला दोस्त महिपालपुर निवासी कीर्ति को पकड़ लिया। आरोपी शुभम हिमाचल प्रदेश में कसोल व मलाना से चरस लाता था और उसे दिल्ली विश्वविद्यालय में सप्लाई करता था।  

जानकारी के मुताबिक आरोपी शुभम मॉडलिंग की दुनिया में अपनी किस्मत को अजमाने में लगा हुआ है। वह महिला दोस्त के साथ मादक पदार्थ की तस्करी कर रहा था। वह महिला दोस्त को इसलिए साथ रखता था ताकि पुलिस उसकी कार को ना रोके। कार में युवती एक ताकिया रखती थी, ताकि पुलिस को उस पर शक ना हो। हालांकि दोनों को पुलिस ने पकड़ लिया। आरोपी शुभम भी खुद भी मादक पदार्थों का सेवन करता है।

फिलहाल पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है और दोनों से पूछताछ शुरू हो गई है। एक पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया कि ऐसा भी हो सकता है कि इस धंधे में इनके साथ और भी लोग शामिल हो सकते हैं। अगर ऐसा हुआ तो उनको भी पकड़ा जाएगा, फिलहाल जांच शुरू हो गई है।