टोरंटो

पिछले दिनों डायरेक्टर लीना मणिमेकलाई की शॉर्ट फिल्म 'काली' के पोस्टर पर काफी विवाद हुआ। धार्मिक भावनाएं आहत करने वाले इस पोस्टर के प्रदर्शन पर कनाडा के इंडियन हाई कमिशन ने विरोध जताया था जिसके बाद टोरंटो के आगा खान म्यूजियम ने माफी मांगी है।
 

'काली' की डायरेक्टर लीना मणिमेकलाई
शॉर्ट फिल्म 'काली' का विवादित पोस्टर पिछले कई दिनों से सुर्खियों में है। इस पोस्टर में हिंदू देवी काली को सिगरेट पीते और हाथ में LGBTQ का झंडा हाथ में लिए नजर आ रही हैं। विवाद बढ़ने पर कनाडा के इंडियन हाई कमिशन ने सख्त आपत्ति दर्ज की थी और इवेंट ऑर्गनाइजर आगा खान म्यूजियम से आपत्तिजनक कॉन्टेंट को हटाए जाने की मांग की थी। अब इस मुद्दे पर इवेंट होस्ट करने वाले म्यूजियम ने माफी मांगी है।

म्यूजियम ने मांगी माफी
फिल्ममेकर लीना मणिमेकलाई की डॉक्यूमेंट्री 'काली' के पोस्टर पर भारी विवाद हुआ है। इस पोस्टर के बाद उनके खिलाफ धार्मिक भावनाएं आहत करने की कई शिकायतें दर्ज हो चुकी हैं। विवाद ज्यादा बढ़ने पर आगा खान म्यूजियम ने माफी मांगते हुए अपने स्टेटमेंट में कहा, 'म्यूजियम इस बात पर माफी मांगता है कि यहां प्रदर्शित 18 शॉर्ट वीडियोज में से एक ने हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया है।'

हाई कमिशन ने भी जताई थी नाराजगी
बता दें कि टोरंटो मेट्रोपॉलिटन यूनिवर्सिटी के प्रोजेक्ट प्रजेंटेशन में अलग-अलग धार्मिक-सामाजिक समूहों की तरफ से 'अंडर द टेंट' प्रोग्राम के तहत आगा खान म्यूजियम में Kaali poster का भी प्रदर्शन हुआ था। इससे पहले कनाडा के इंडियन हाई कमिशन ने अधिकारियों से ऐसे सभी पोस्टर-वीडियो को हटाने की मांग की थी जो धार्मिक भावनाएं आहत करते हों।

लीना ने दी थी पोस्टर पर सफाई
इस मामले में Leena Manimekalai के खिलाफ दिल्ली और उत्तर प्रदेश में एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। मदुरै में जन्मीं और कनाडा में रहने वाली फिल्ममेकर लीना ने इस पोस्टर पर विवाद होने के बाद अपनी सफाई में ट्वीट भी किया था। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'इस फिल्म में वह घटनाएं दिखाई गई हैं जिसमें काली एक शाम टोरंटो की सड़कों पर प्रकट होकर घूमती हैं। अगर आप ये फिल्म देखते हैं तो अरेस्ट लीना मणिमेकलाई के बजाय लव यू लीना मणिमेकलाई हैशटैग लगाएंगे।'