टाइफाइड बारिश के दिनों में होने वाली बीमारियों में से है। यह सामान्य लक्षणों के साथ गंभीर परिणाम देने की क्षमता रखता है। फिलहाल इसने तेलंगाना में कोहराम मचा रखा है। स्वास्थ्य विभाग ने इसका जिम्मेदार सबसे मशहूर स्ट्रीट फूड 'पानी पूरी' को ठहराया है। पब्लिक हेल्थ के निदेशक डॉ जी श्रीनिवास राव ने टाइफाइड को 'पानी पूरी रोग' कहा है। सरकार मानसून के दौरान लोगों को स्ट्रीट फूड खासकर पानी पूरी से दूर रहने की सलाह दे रही है। डॉ राव ने यह भी कहा कि विक्रेताओं को स्वच्छता सुनिश्चित करनी चाहिए और केवल सुरक्षित पेयजल का उपयोग करना चाहिए। अब तक तेलंगाना में पानी पूरी खाकर 2,752 लोग टाइफाइड की चपेट में आ चुके हैं। इसके साथ ही हैजा और डेंगू के मामले भी बढ़ रहे हैं।

कैसे फैलता है टाइफाइड- टाइफाइड बुखार साल्मोनेला टाइफी बैक्टीरिया के कारण होता है। विकसित देशों में टाइफाइड बुखार दुर्लभ है। विकासशील देशों में यह अभी भी एक गंभीर स्वास्थ्य खतरा है, खासकर बच्चों के लिए। दूषित भोजन और पानी या किसी संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क से टाइफाइड बुखार होता है। टाइफाइड की बीमारी आमतौर पर 7 से 14 दिनों तक रह सकता है। लेकिन कुछ मामलों में यह बीमारी 3 या 30 दिन तक भी रह सकती है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)के अनुसार, हर साल दुनिया भर में अनुमानित 11-20 करोड़ लोग टाइफाइड से बीमार होते हैं। जिसमें से 128,000 से 161,000 लोग की मौत हो जाती है।

​टाइफाइड के लक्षण क्या है
प्रारंभिक अवस्था में, टाइफाइड के लक्षणों में लंबे समय तक तेज बुखार, पेट में तेज दर्द, सिरदर्द, दस्त या कब्ज और भूख कम लगना शामिल हैं। यदि तुरंत इलाज नहीं किया जाता है, तो यह लक्षण और गंभीर होने लगते हैं। जिसके कारण शरीर में थकान, पीली त्वचा, खून की उल्टी और यहां तक कि आंतरिक रक्तस्राव भी हो सकता है।

​टाइफाइड से कैसे बचें- सफाई से रहें
परिवार के सभी सदस्यों को स्वच्छता का पालन करना चाहिए। खाना खाने से पहले और शौचालय का उपयोग करने के बाद अपने हाथ धोएं। यह भी सुनिश्चित करें कि आप अपने हाथ नियमित रूप से धोते रहें हैं, जैसे कि बाहर से घर वापस आने के बाद। अगर आपको खांसना या छींकना है तो अपना मुंह ढक लें और अपनी नाक या आंखों को हाथों से बार-बार सामान्य रूप से छूने से बचें।

​टाइफाइड से बचने के लिए शुद्ध पानी पिएं
सुनिश्चित करें कि आप केवल शुद्ध पानी पी रहे हैं। पीने से पहले पानी को उबालना एक अच्छा विकल्प है। यदि आप पैकेज्ड पानी पी रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि यह एक विश्वसनीय ब्रांड का हो। बाहर पानी पीते समय सुरक्षित बोतलबंद पानी को प्राथमिकता दें यदि आप उस स्थान पर परोसे जाने वाले पानी की गुणवत्ता के बारे में सुनिश्चित नहीं हैं। अशुद्ध पानी आपके पेट को आसानी से खराब कर सकता है और दस्त का कारण बन सकता है।

​स्ट्रीट फूड खराब कर सकते हैं बारिश का मजा
मानसून में पानी पूरी और अन्य स्ट्रीट फूड से बचें। बारिश में बैक्टीरिया और फंगस तेजी से पनपने लगते हैं। इसलिए एक्सपर्ट बारिश के दिनों में कुछ भी खाने पीने से मना करते हैं। इस मौसम में बेहतर है कि आप ताजी सब्जियों और शुद्ध पानी का उपयोग करके घर पर अपने पसंदीदा व्यंजन तैयार करें। साथ ही बरसात के मौसम में अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए मौसमी फल, सब्जियां और नट्स खूब खाएं।

मच्छर से रहें सावधान
बारिश के दिनों में मच्छर कई सारी बीमारियों का कारण बन सकते हैं। ऐसे में इनसे बचने के लिए शाम को सभी खिड़कियां और दरवाजे बंद कर लें। साथ ही सोने से पहले या शाम को बाहर जाते समय भी मच्छर भगाने वाली क्रीम लगा कर निकलें। ऐसे कपड़े पहनने की कोशिश करें जो आपके पैरों और बाहों को अच्छी तरह से ढकें रख सके। सुनिश्चित करें कि आपके घर में कहीं भी पानी जमा न हो, क्योंकि यह मच्छरों के लिए प्रजनन स्थल बन सकता है।