नई दिल्ली
भारत और चीन के बीच एलएसी पर चल रहे सीमा विवाद को लेकर एक बार फिर कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर घेरा है। असम के कलियाबोर से कांग्रेस सांसद और पार्टी प्रवक्ता गौरव गोगोई ने सोमवार को मोदी सरकार पर तीखा हमला किया है। कांग्रेस नेता ने चीन को लेकर कहा कि पूर्वी लद्दाख में सीमा को लेकर जो तनाव है, उसका कोई ठोस समाधान नहीं निकला है।
 
कांग्रेस प्रवक्ता गौरव गोगोई ने एआईसीसी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि चीन को लेकर पीएम मोदी का रवैया सहमा हुआ है। वे चीन का नाम लेने तक से डर रहे हैं। सिर्फ अपनी छवि के बारे में सोचत हैं। भारत सरकार की भाषा समय के साथ इस मुद्दे पर कमजोर होती दिख रही है। गोगोई ने कहा कि राहुल गांधी बार बार कहते हैं डरो मत, जो पीएम मोदी पर भी लागू होती है।

 गोगोई ने कहा, "विदेश मंत्री एस जयशंकर और उनके चीनी समकक्ष वांग यी के बीच 7 मई को हुई हालिया बैठक के बाद उत्तरी लद्दाख क्षेत्र में भारतीय सीमाओं की सुरक्षा को लेकर चल रही चिंता का कोई ठोस समाधान इस मीटिंग के बाद भी नहीं निकला है।" इसी के साथ उन्होंने कहा कि भारत सरकार, विदेश मंत्रालय की भाषा कमजोर हो चुकी है।

उन्होंने कहा है कि हमारी मांग था कि जो मई 2020 से पहले हमारी स्थिति की, वो हमें चाहिए। इसी के साथ अपने बयान में कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि दो साल से अधिक समय के बाद पूर्वी लद्दाख में सीमा संकट से निपटने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी की DDLJ रणनीति के तहत भारतीय लोगों को धोखा देना पसंद करता है। DDLJ यानी के साथ समेटा जा सकता है। Deny (इनकार), Distract (विचलित), Lie (झूठ) और Justify उचित ठहराना।