उमरिया
हर घर तिरंगा अभियान का क्रियान्वयन 11 से 17 अगस्त तक की अवधि के लिए किए जाना है। जिसके क्रियान्वयन हेतु स्थानीय स्तर पर देशवासियो मे राष्ट्रीय ध्वज के बारें में जागरूकता उत्पन्न कर देश भक्ति की भावना जागृत करना तथा अपने घर पर राष्ट्रीय तिरंगे को स्वयं क्रय कर लगाने के लिए प्रेरित करना है।  हर घर में तिरंगे का ध्वजारोहण कराए जाने हेतु कार्यक्रम के क्रियान्वयन हेतु ग्रामीण क्षेत्रों के लिए कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है।समिति में पुलिस अधीक्षक प्रमोद सिन्हा उपाध्यक्ष होंगे।

सदस्य सचिव मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला इला तिवारी होंगी। इसी तरह अनुविभागीय अधिकारी राजस्व समस्त, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत समस्त, प्राचार्य शासकीय आर व्ही पी एस अग्रणी महाविद्यालय, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला जनसंपर्क अधिकारी, जिला समन्वयक मप्र जन अभियान परिषद, जिला खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी, प्राचार्य आईटीआई, जिला खादी एवं ग्रामोद्योग , महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र, जिला समन्वयक नेहरू युवा केंद्र, जिला परिवहन अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास, जिला परियोजना प्रबंधक मप्र डे राज्य आजीविका मिशन, समन्वयक अधिकारी समस्त एनसीसी, एन एस एस तथा जिला खाद्य अधिकारी, सहायक आयुक्त सहकारी संस्थाएं, डी एम नान सदस्य होंगे।कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने कहा कि 11 से 17 अगस्त 2022 तक हर घर तिरंगा फहराने हेतु कार्यक्रम का क्रियान्वयन की कराये जाने पूर्ण दायित्व समिति के पदाधिकारी/सदस्यों का होगा।

कार्यक्रम के क्रियान्वयन हेतु केन्द्र सरकार द्वारा संशोधित झंडा संहिता 2002 में 30 दिसंबर 2021 को किये गये संशोधन अनुसार राष्ट्रीय ध्वज अब हाथ से बुन एवं काते हुये कपड़े के साथ ही मशीन द्वारा सूती, पॉलिस्टर, उनी, रेशमी, खादी के कपड़ों का उपयोग कर इस आयताकार साईज ( 20.30 इंच ) अथवा (10.15 इंच) के बने ध्वज का उपयोग किया जाना है। कार्यक्रम के क्रियान्यन की निर्धारित तिथिवार कार्यक्रम, झंडा तैयार करने के निर्देश, झंडा फहराने के नियम क्रमशः अनुलग्नक ब स पत्र के साथ संलग्न  है । कार्यक्रम की सम्पूर्ण तैयारी की समीक्षा अधोहस्ताक्षरी द्वारा आगामी 11 जुलाई 2022 सोमवार को टी. एल. बैठक के साथ समीक्षा की जावेगी । इसी प्रकार से प्रत्येक सप्ताह के टी. एल. बैठक में हर घर तिरंगा कार्यक्रम के क्रियान्वयन अवधि पूर्ण होने तक कार्यक्रम की समीक्षा की जाती रहेगी जिसके लिये सभी अधिकारी इसकी तैयारी के साथ उपस्थित रहना सुनिश्चित करें।