लखनऊ
यूपी के लखनऊ में योगी आदित्यनाथ ने कल रविवार शाम को लुलु मॉल (Lulu Mall Lucknow) का उद्घाटन किया। आज सोमवार, 11 जुलाई सुबह 10 बजे से यह मॉल पब्लिक के लिए खुला । यह लखनऊ का सबसे बड़ा मॉल है, जो सुशांत गोल्फ सिटी में 11 एकड़ में करीब 2 हजार करोड़ रुपये की लागत से बना है। यह मॉल देश के सबसे बड़े शॉपिंग मॉल्स में से एक है। अभी तक इस कंपनी ने कोच्चि में सबसे बड़ा मॉल बनाया है। संयुक्त अरब अमीरात स्थित लुलु समूह ने बताया कि कोच्चि, बैंगलोर और तिरुवनंतपुरम के बाद लखनऊ चौथा शहर है जहां उसने अपना सुपरमार्केट खोला है। ऐसे में आइए आपको बताते हैं कितना बड़ा है लुलु ग्रुप, किसका है और क्या-क्या बेचता है।

एक नजर लुलु मॉल की खासियत पर

  •     300 से अधिक इंटरनेशनल और नेशनल ब्रांड
  •     11 स्क्रीन का सुपरप्लेक्स
  •     15 रेस्टोरेंट, 25 आउटलेट का फूडकोर्ट
  •     1600 लोग फूडकोर्ट में एक साथ बैठ सकेंगे
  •     50 हजार लोग एक साथ शॉपिंग कर सकेंगे
  •     3000 गाड़ियों की हो सकती है पार्किंग
  •     मल्टी लेवल कार पार्किंग

इनके अलावा लखनऊ के लुलु मॉल में ATM, बेबी केयर रूम, बैगेज काउंटर, कस्टमर लिफ्ट, कार वॉशिंग, पीने का पानी, दिव्यांगों के लिए वॉशरूम की व्यवस्था, एस्केलेटर, हेलमेट पार्किंग की सुविधा होगी। वहीं दिव्यांगों और गर्भवती महिलाओं के लिए पार्किंग की अलग व्यवस्था है। योगी आदित्यनाथ ने रविवार शाम को इस मॉल का उद्घाटन किया।

कहां है ये मॉल, कैसे पहुंचें?
लुलु मॉल नेशनल हाईवे 27 पर है, जो लखनऊ-सुल्तानपुर नेशनल हाईवे है। इस मॉल के लिए हाईवे के बगल में एक डेडिकेटेड सर्विस लेन भी है। सिटी सेंटर और एयरपोर्ट से इस मॉल में जाने में करीब 20 मिनट का वक्त लगता है। सुशांत गोल्ड सिटी में यह मॉल 1,85,800 स्क्वायर मीटर में बना है।

दुनियाभर में 57 हजार कर्मचारी हैं ग्रुप

लुलु ग्रुप का सालाना टर्नओवर 8 अरब डॉलर का है। इस ग्रुप का कारोबार सबसे अधिक अरब देशों खासतौर पर संयुक्त अरब अमीरात में फैला है। UAE की राजधानी अबू धाबी में लुलु ग्रुप का मुख्यालय है। इस ग्रुप का बिजनस मध्य पूर्व, एशिया, अमेरिका और यूरोप में समेत 22 देशों में है। दुनिया भर में फैले बिजनस के जरिए लुलु ग्रुप ने करीब 57 हजार लोगों को रोजगार दिया हुआ है।

लुलु ग्रुप इंटरनेशनल एक मल्टीनेशनल कंपनी है। यह ग्रुप हाइपरमार्केट और रिटेल कंपनियों की एक बड़ी चेन चलाता है। इसे एक भारतीय एम. ए. यूसुफ अली ने शुरू किया था, जो केरल के नाट्टिका के रहने वाले हैं। लुलु ग्रुप इंटरनेशनल ने अबू धाबी में अपना पहला सुपरमार्केट खोला था।