नई दिल्ली
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने के बाद अचानक आई बाढ़ में जान गंवाने वाली राष्ट्रीय राजधानी की दो महिला तीर्थयात्रियों के परिजनों के लिए सोमवार को दस-दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की। आठ जुलाई को अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने के बाद अचानक आई बाढ़ में कम से कम 16 श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी, जबकि 30 से अधिक अब भी लापता हैं।

केजरीवाल ने हिंदी में ट्वीट किया, “दिल्ली की रहने वाली बीरमती जी और प्रकाशी जी का अमरनाथ जी की यात्रा के दौरान बादल फटने से निधन हो गया। मैं अभी उनके परिजनों से मिला। हर परिवार को दस-दस लाख रुपये की सहायता देंगे। उनके बच्चों के लिए अच्छी शिक्षा का इंतजाम करेंगे। और जो भी मदद होगी, करेंगे। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे।”

43 दिन लंबी वार्षिक अमरनाथ यात्रा 30 जून को जम्मू-कश्मीर के दो आधार शिविरों (दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में 48 किलोमीटर लंबे नुनवान-पहलगाम और मध्य कश्मीर के गांदेरबल में 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग) से शुरू हुई थी। अब तक 1.13 लाख से अधिक तीर्थयात्री पवित्र गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन कर चुके हैं। अमरनाथ यात्रा का समापन 11 अगस्त को होगा।