रायपुर
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के महान साहित्यकार, विचारक और भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के महान योद्धा स्वर्गीय पंडित रामदयाल तिवारी की 23 जुलाई को जयंती पर उन्हें नमन किया है। श्री तिवारी के व्यक्तित्व और कृतित्व को याद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि पंडित जी गंभीर चिंतक और लेखक ही नहीं, अच्छे वक्ता भी थे। उन्हें कई भाषाओं का ज्ञान था। स्वाधीनता आंदोलन के दौरान लोगों में राष्ट्रीय चेतना जगाने के लिए उन्होंने अपनी वाणी और लेखनी का भरपूर उपयोग किया।