भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्मार्ट सिटी उद्यान में नीम, बरगद और सप्तपर्णी के पौधे लगाए। माधुरी आयाम एजुकेशन एंड वेलफेयर सोसाइटी की श्रीमती विवा जोशी, श्रीमती तरूण भार्गव, श्रीमती सीमा सिंह और श्रीमती मंजु श्रीवास्तव भी पौध-रोपण में शामिल हुईं। इस मौके पर शारीरिक समस्या और मानसिक निर्बलता से प्रभावित सोसाइटी से जुड़े बच्चों पायल, पूजा, सोनम और सपना ने सांकेतिक भाषा से मुख्यमंत्री चौहान को अपना परिचय दिया। सोसाइटी भोपाल शहर के साथ ग्रामीण क्षेत्र की पिछड़ी बस्तियों के दिव्यांग और सामान्य बच्चों की बेहतर शिक्षा और पुनर्वास के लिए कार्य कर रही है। नीलबड़ में बच्चों की देख-रेख और शिक्षा के लिए आश्रम संचालित किया जा रहा है।

सोसाइटी, बच्चों को समावेशी शिक्षा के सिद्धांत के आधार पर बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए विशेष प्रयासरत है। साथ ही महिला सशक्तिकरण, व्यावसायिक एवं कौशल विकास और नशा-मुक्ति के क्षेत्र में भी गतिविधियाँ संचालित की जाती हैं।

पौधों का महत्व

बरगद का धार्मिक महत्व है। आयुर्वेद के अनुसार बरगद के पेड़ से कई बीमारियों का इलाज संभव है। इसी तरह एंटीबायोटिक तत्वों से भरपूर नीम को सर्वोच्च औषधि के रूप में जाना जाता है। सप्तपर्णी सदाबहार औषधीय वृक्ष है, जिसका आयुर्वेद में बहुत महत्व है।