भोपाल
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने रणजी ट्राफी 2022 फाइनल मुकाबले में मुम्बई को हरा कर प्रथम बार रणजी ट्राफी जीतने की ऐतिहासिक उपलब्धि पर मध्यप्रदेश क्रिकेट टीम के सभी खिलाड़ियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ दी हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह शानदार, ऐतिहासिक और गौरवान्वित करने वाला क्षण है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह जीत सिर्फ टीम की नहीं बल्कि मध्यप्रदेश की साढ़े आठ करोड़ जनता की जीत है। इस अहम मैच में शतक लगाने वाले यश दुबे, शुभम शर्मा और रजत पाटीदार सहित पूरी टीम और कोच श्री चंद्रकांत पंडित को शानदार प्रदर्शन के लिए दिल से बधाई देता हूँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश टीम के कप्तान रहे श्री चंद्रकांत पंडित का वर्ष 1999 में रणजी ट्रॉफी जीतने का जो सपना अधूरा रह गया था, वह सपना उन्होंने अपनी कोचिंग में खिलाड़ियों की मजबूत इच्छा शक्ति और टीम के एकजुट प्रदर्शन के साथ पूरा किया। यह सपना सिर्फ उनका नहीं हम सभी प्रदेशवासियों का भी था। उन्हें और टीम के सभी सदस्यों को प्रदेशवासियों की ओर से भी बहुत-बहुत बधाई।

टीम सदस्यों का होगा सम्मान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार न सिर्फ क्रिकेट बल्कि सभी खेलों के विकास और खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए प्रतिबद्ध है। गत सप्ताह मैंने रणजी टीम के खिलाड़ियों से बातचीत की थी। वे काफी आत्म-विश्वास से भरपूर दिखाई दिए थे। कप्तान श्री आदित्य श्रीवास्तव, कोच श्री चंद्रकांत पंडित पूरी तरह आश्वस्त थे कि हम सफल होंगे। उन्होंने आज अपनी श्रेष्ठता का प्रमाण दे दिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए कोई कसर नहीं रखी जाएगी। मुख्यमंत्री निवास में शानदार सम्मान समारोह के संबंध में मैंने पूर्व में ही रणजी क्रिकेट टीम मध्यप्रदेश को आग्रह किया था, जिस पर हम अमल भी करेंगे। गरिमामय समारोह में खिलाड़ियों को सम्मानित और पुरस्कृत किया जाएगा।

फाइनल मैच का देखा लाइव प्रसारण
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज निवास से बैंगलुरू में मध्यप्रदेश और मुंबई के बीच चल रहे रणजी ट्रॉफी फाइनल मैच का लाइव प्रसारण देखा। उन्होंने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्मार्ट उद्यान में पौध-रोपण के बाद मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा में कहा कि मध्यप्रदेश की टीम ने पहले दिन भी बढ़त ली और दूसरे दिन मुम्बई के खिलाड़ियों को जल्दी आऊट किया। मध्यप्रदेश की टीम विजय की राह पर लगातार अग्रसर है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश के बच्चों में प्रतिभा, योग्यता और क्षमता है। मध्यप्रदेश में बहुत प्रतिभाएँ हैं। हमारे खिलाड़ियों को सुविधाएँ मिल जाएँ तो वह चमत्कार कर सकते हैं।