रायपुर
आजादी के अमृत महोत्सव के 75वें वर्षगांठ के अवसर पर देश में प्रथम बार आयोजित होने वाले 44वें शतरंज ओलम्पियाड टॉर्च रिले का आयोजन 19 जून से 28 जुलाई 2022 तक देश के विभिन्न राज्यों में किया जा रहा है। शतरंज ग्रैंड मास्टर प्रवीण थिप्से 16 जुलाई को राजधनी रायपुर में चेस ओलम्पियाड टॉर्च लेकर आएंगे और पंडित दीनदयाल आडिटोरियम में आयोजित मुख्य समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को चेस ओलम्पियाड टार्च सौपेंगे। इस आयोजन को सफल बनाने के लिए भारत सरकार द्वारा नियुक्त कोआॅर्डिनेटर छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के महासचिव गुरूचरण सिंह होरा ने आज ओलंपिक संघ कार्यालय में शतरंज समेत अन्य खेलों के पदाधिकारियों की बैठक ली। बैठक में छत्तीसगढ़ ओलिंपिक संघ के पदाधिकारी गण एवं शतरंज संघ के पदाधिकारी, डॉ. विष्णु कुमार श्रीवास्तव एवं सुशांत पॉल उपस्थित थे।

बैठक में टार्च रिले के आगमन से लेकर पंडित दीनदयाल आॅडिटोरियम में होने वाले समारोह को सफल बनाने के लिए विचार-विमर्श कर रूपरेखा तैयार की गई। टार्च रिले आगमन के बारे छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के महासचिव होरा ने बताया कि चेस ओलम्पियाड टॉर्च रिले को स्वामी विवेकानंद विमानतल रायपुर में 16 जुलाई को सवेरे 8.40 बजे ग्रैंड मास्टर प्रवीण थिप्से लेकर आएंगे। माना विमानतल में स्वागत के बाद तेलीबांधा चौक में  स्कूली बच्चों द्वारा स्वागत एवं नगर घड़ी चौक में ओलिंपिक खेल संघ के पदाधिकारियों द्वारा स्वागत किया जाएगा। इस दौरान जयस्तंभ चौक में आमजनों को सेल्फी लेने का मौका भी दिया जाएगा। स्वागत के बाद पंडित दीनदयाल आडिटोरियम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आतिथ्य में स्वागत समारोह का आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर ग्रैंड मास्टर प्रवीण थिप्से मुख्यमंत्री बघेल को टार्च रिले सौपेंगे।