जबलपुर  
मझौली नगरी निकाय चुनाव को लेकर प्रत्याशी ने नामांकन दाखिल किया जिसमें स्कूटनी के समय यह पाया गया कि जाति प्रमाण पत्र के कारण वार्ड क्रमांक 3 सुषमा कोस्टा भाजपा प्रत्याशी का फार्म निरस्त किया गया ।

वार्ड क्रमांक 8 भाजपा प्रत्याशी शिप्रा राजेंद्र चौरसिया के द्वारा जाति प्रमाण पत्र जमा किया गया जो कि 2009-10 में बना हुआ था, जो सिहोरा एसडीएम के द्वारा बनाया गया था ,वही प्रमाण पत्र रिनू हुआ दिनांक 14.06. 2022 को नया बनकर तैयार हुआ। जो सरकारी गाइडलाइन के हिसाब से गलत था जोकी लड़की के मायके पक्ष का होना चाहिए । आज स्कूटनी के समय दिनांक 20.06. 2022 को क्षिप्रा राजेंद्र चौरसिया ने 2010 में मंडला का बना जाति प्रमाण पत्र जमा किया ।

अपत्ती
कांग्रेस प्रत्याशी वार्ड क्रमांक 8चांदनी संतोष मांझी द्वारा सहायक रिटर्निंग अधिकारी के समक्ष इसी बात की आपत्ति दर्ज की जिसे रिटर्निंग अधिकारी प्रदीप मिश्रा द्वारा सिरे से खारिज कर दीया ।

रिटर्निंग अधिकारी
सहायक रिटर्निंग अधिकारी प्रदीप मिश्रा द्वारा बताया गया कि स्कूटनी के समय शिप्रा चौरसिया का जाति प्रमाण पत्र सिहोरा एसडीएम के द्वारा बना था, जोकी लड़की पक्ष का जाति प्रमाण पत्र मायका पक्ष का होना चाहिए जो प्रत्याशी को बताया गया तो शिप्रा चौरसिया द्वारा मंडला से बना जाति प्रमाण पत्र जो मंडला एसडीएम द्वारा बनाया गया था उसे जमा कर दिया गया है। रिटर्निंग अधिकारी द्वारा बताया गया कि स्कूटनी के समय अगर किसी फार्म में कमी होती है तो प्रत्याशी को समय देकर पूरा करने को कहा जाता है । अगर किसी को इस बात की आपत्ति है तो ऊपर अपील कर सकता है ।