हैदराबाद।
 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के लिए हैदराबाद पहुंचे। आज बैठक का दूसरा दिन है। सुबह-सुबह योगी आदित्यनाथ ने चारमीनार स्थित भाग्य लक्ष्मी मंदिर में पूजा-अर्चना की। आपको बता दें कि हैदराबाद को एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी का गढ़ माना जता है। चारमीनार मंदिर बीचे दिनों यहां पूजा और नमाज को लेकर विवाद हुआ था। आपको यह भी बता दें कि मंदिर की उत्पत्ति वर्तमान में विवादित है। कहा जाता है कि यह मंदिर 1960 के दशक में बनाया गया। हाई कोर्ट ने भी मंदिर के विस्तार पर रोक लगा रखी है।

भाजपा यूपी सहित चार राज्यों के विधानसभा चुनावों में मिली शानदार जीत की नींव पर 2024 की इमारत खड़ी करना चाहती है। रामपुर और आजमगढ़ उपचुनावों में मिली जीत ने पार्टी के उत्साह में और वृद्धि कर दी है। इन सफलताओं की गूंज शनिवार को हैदराबाद में शुरू हुई भाजपा की तीन दिनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में सुनाई दी।

भाजपा की हैदराबाद में शनिवार को शुरू हुई तीन दिनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में पहले दिन यूपी और योगी की खासी चर्चा रही। पहले विधानसभा चुनाव में सरकार के बरकरार रहने और फिर रामपुर-आजमगढ़ जैसे सपाई किलों को ध्वस्त करने के लिए योगी सरकार की सराहना की गई। योगी के काम और मोदी के नाम पर मिली इन सफलताओं को सभी ने सराहा। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इसे डबल इंजन सरकार की जीत बताया। वहीं पीएम मोदी और उनकी गरीब कल्याण नीति को सफलता के लिए महत्वपूर्ण बताया गया।