लखनऊ
 14 जून को भारतीय सेना में 'अग्निपथ' भर्ती योजना को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने लागू किया था, जिसके बाद से पूरे देश में हिंसक प्रदर्शन के बीच सियासत भी जारी है। अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे युवाओं को बिहार के बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर ने 'जिहादी' करार दिया था। तो वहीं, अब उनके इस बयान पर उत्तर प्रदेश के पीलीभीत सांसद व बीजेपी नेता वरुण गांधी ने पलटवार किया है। बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने कहा, 'लोकतंत्र में शांतिपूर्ण प्रदर्शन सबका अधिकार।' पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने 20 जून को बिहार के विधायक हरिभूषण ठाकुर का एक वीडियो अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है। इस वीडियो में बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे युवाओं को जिहादी बता रहे है।

किसान जब अपने अधिकारों के लिए सड़क पर उतरें तो वो खालिस्तानी, युवा सेना में बहाली को लेकर सड़कों पर आये तो वे जेहादी। देशभक्त युवा मां भारती की सेवा का भाव मन में लिए दधीचि की तरह अपनी हड्डियां गलाता है तब जा कर फ़ौज में नौकरी पाता है। लोकतंत्र में शांतिपूर्ण प्रदर्शन सबका अधिकार। दरअसल, बिहार में बीजेपी के विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे युवाओं को जिहादी बताया। कहा था कि मैं तो साफ तौर पर कहना चाहता हूं कि अग्निपथ योजना से जिनको भी दिक्कत है वो या तो जेहादी है या फिर समीकरणवादी हैं। ये लोग समीकरण बनाकर सिर्फ राज्य में सरकार बनाना चाहते हैं। जो युवा है जिसके शरीर में जज्बा है कुछ करने की। देश के लिए मर मिटने की, वो सारे युवा खुश हैं। राज्य में हिंसा जानबूझकर कर कराई जा रही है। ये सेना का नौकरी नहीं है, देश सेवा है। जिसमे हिम्मत है वो ही इस सेवा में जाएगा।