मुंबई
ऑयम मार्केटिंग कंपनियों ने घरेलू एयरलाइन्स को बड़ी राहत दी है। दरअसल, कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट के बीच तेल कंपनियों ने एटीएफ यानि हवाई ईंधन की कीमतों में कटौती की है। जानकारी के अनुसार एटीएफ 2.2 प्रतिशत सस्ता हो गया है। नई दरें 16 जुलाई से लागू हो गई हैं। एयरलाइन कंपनियों की हर रोज की लागत में इससे कमी आएगी। इस बात की भी गुंजाइश बन सकती है कि एयरलाइन इसका फायदा अपने ग्राहकों को किराए में कमी के तौर पर दे सकती हैं।
 
कीमत में कटौती दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई जैसे महानगरों में की गई है। बता दें, बीते शुक्रवार को ATF कीमतों और मूल्य निर्धारण पर पेट्रोलियम, उड्डयन मंत्रालय के साथ एयरलाइन्स और ऑयल मार्केटिंग कंपनियों (OMCs) की मीटिंग हुई थी।

नई दरें

तेल कंपनियों ने एटीएफ के दाम 3084.94 रुपए प्रति किलो लीटर घटा दिए हैं और ये अब 138,147.93 रुपए प्रति किलो लीटर से स्तर पर आ गए हैं। दिल्ली में अब एटीएफ 138,147.95 रुपए प्रति किलोलीटर और मुंबई में 137,095.74 रुपए प्रति किलोलीटर के स्तर पर आ गया है। इसी तरह,कोलकाता में 1,44,575.71 रुपए प्रति किलोलीटर और चेन्नई में 1,43,212.25 रुपए प्रति किलोलीटर दर्ज किया गया।

आपको बता दें, पिछले महीने दिल्ली में 1,41,232.87 रुपए प्रति किलोलीटर, कोलकाता में 1,46,322.23 रुपए प्रति किलोलीटर, मुंबई में 1,40,092.74 रुपए प्रति किलोलीटर और चेन्नई में 1,46,215.85 रुपए प्रति किलोलीटर का रेट था।
एयरलाइन्स का 55% लागत ATF में ही खर्च हो जाता है

खबर के मुताबिक, एयरलाइन्स कंपनियां हवाई ईंधन के दाम का निर्धारण करने के लिए Sustainable Model पर जल्द OMCs के साथ मीटिंग करेंगी। बता दें, इस वक़्त एयरलाइन्स कम्पनियों की ऑपरेशनल लागत का कुल 55% ATF में ही खर्च हो जाता है। ATF के दाम पिछले एक साल में ढाई गुना बढ़ गए हैं। शुक्रवार को हुई मीटिंग में एयरलाइंस कम्पनियों ने कहा कि ATF के बढ़े हुए दाम का बोझ हम यात्रियों पर नहीं डाल सकते। ऐसे में सरकार को ही ATF की क़ीमतों को कम करने का उपाय करना होगा।