हरिद्वार
 कांवड़ मेले को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। स्वास्थ्य विभाग ने कांवड़ यात्रा को लेकर अपनी तैयारियों को लगभग पूरा कर लिया है। राजकीय और अराजकीय 18 चिकित्सालयों में कांवड़ के दौरान 1265 बेड कांवड़ियों के लिए रिजर्व कर दिए हैं।

यह व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग ने की है। जबकि आकस्मिक सेवाओं के लिए पचास से अधिक एंबुलेंस और 108 वाहन भी तैनात किए गए हैं। जबकि इस दौरान दो सौ से अधिक चिकित्सक, फार्मासिस्ट एवं अन्य चिकित्सकों की तैनाती भी कर दी है। कांवड़ मेले को सकुशल संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहा है।

वहीं स्वास्थ्य विभाग ने भी कांवड़ मेले को लेकर अपनी तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया है। मेला अस्पताल को कांवड़ मेले का कंट्रोल रूम भी बना दिया है। कांवड़ मेले के नोडल अधिकारी डॉ. राजेश गुप्ता ने बताया कि कांवड़ मेले के दौरान 13 राजकीय चिकित्सालयों में 380 और पांच अराजकीय चिकित्सालयों में 885 बेड की व्यवस्था की गई है।

उन्होंने बताया कि कांवड़ मेले के दौरान 17 स्थानों पर अस्थायी चिकित्सा शिविर भी बनाए जााएंगे। डॉ. गुप्ता ने बताया कि मेले में 68 चिकित्सक, 68 फार्मासिस्ट और 68 अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की भी तैनाती की गई है। आकस्मिक स्वास्थ्य सेवाओं के लिए कांवड़ मेला क्षेत्र में 23 राजकीय एंबुलेंस, बीस 108 वाहन और आठ अराजकीय एंबुलेंस को भी तैनात किया गया है।