नई दिल्ली
भारतीय क्रिकेट टीम इस वक्त कैरेबियन सरजमी पर है जहां उसे पहले वनडे और फिर टी20 सीरीज में खेलना है। टीम इंडिया इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर में आखिरी वनडे खेलने के बाद पोर्ट आफ स्पेन पहुंची है। टीम के यहां आने को लेकर जो बातें सामने आई है इसके मुताबिक बीसीसीआई ने सीरीज के लिए कोचिंग स्टाफ समेत पूरी टीम को लाने के लिए चार्टर्ड फ्लाइट का इंतजाम किया था।

बीसीसीआइ को दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के तौर पर जाना जाता है। अपने खिलाड़ियों की सुविधाओं का ध्यान रखने में बोर्ड कभी भी पीछे नहीं रहता है। इंग्लैंड में हालिया सीरीज खत्म होने के बाद टीम के लिए मैनचेस्टर से पोर्ट आफ स्पेन के लिए आम प्लेन नहीं बल्कि चार्टर्ड फ्लाइट की व्यवस्था की गई थी। एक रिपोर्ट के मुताबिक इसमें बोर्ड की तरफ से 3.5 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं।

खबर के अनुसार, बीसीसीआई ने भारतीय टीम को कैरेबियन दौरे पर ले जाने के लिए तकरीबन 3.5 करोड़ रुपए में चार्टर्ड फ्लाइट बुक की। एक सूत्र के मुताबिक टीम के लिए की गई इस व्यवस्था के पीछे कोविड-19 नहीं बल्कि इस दौरे पर जाने वाले लोगों की संख्या जाने वजह थी। दरअसल वेस्टइंडीज दौरे के लिए 16 सदस्यीय टीम का चयन किया गया है इसके अलावा कोच और सपोर्ट स्टाफ हैं। वहीं खिलाड़ियों को साथ दौरे पर जाने वाले परिवार के सदस्य भी हैं।