डबलिन
माइकल ब्रेसवेल की नाबाद सेंचुरी (Michael Bracewell century) के बूते न्यूजीलैंड ने आयरलैंड (New Zealand vs Ireland) पर एक विकेट की रोमांचक जीत दर्ज की। भारतीय समयानुसार रविवार रात खेले गए मुकाबले में कीवी टीम के सामने 301 रन का लक्ष्य था और महज 120 रन पर पांच विकेट भी गिर चुके थे। हार का खतरा मंडरा रहा था, लेकिन ब्रेसवेल ने वनडे रिकॉर्ड बुक तहस-नहस कर दिया।

दुनिया की नंबर एक वनडे टीम न्यूजीलैंड को आखिरी ओवर में जीत के लिए 20 रन चाहिए थे और उसका सिर्फ एक ही विकेट बाकी था। पूरे मैच में दमदार खेल दिखाने वाली आयरलैंड को उम्मीद थी कि अंत में मुकाबला उसकी ही ओर झुकेगा, लेकिन ब्रेसवेल ने बॉलर क्रेग यंग की शुरुआती 5 बॉल में ही 24 रन पीट दिए। इसी के साथ एक विश्व रिकॉर्ड भी बन गया, इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 1987 में इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी ओवर में 18 रन बनाकर मैच जीता था।

31 वर्षीय बाएं हाथ के बल्लेबाज ब्रेसवेल अपना सिर्फ चौथा ही मैच खेल रहे थे। 82 बॉल में 127 रन की पारी के दौरान उन्होंने 10 चौके और 7 छक्के उड़ाए। पिछले दो वर्ल्ड कप में आखिरी ओवर में ही हारने वाली न्यूजीलैंड इस बार अपने नियमित कप्तान केन विलियमसन, डिवॉन कॉन्वे और डेरिल मिचेल के बिना उतरी थी, लेकिन माइकल ब्रेसवेल, जिनके चाचा ब्रेंडन और जॉन, चचेरे भाई डग सभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल चुके हैं, ने ईश सोढ़ी (25) के साथ 61 और लॉकी फर्ग्यूसन (8) के साथ क्रमशः सातवें और नौवें विकेट के लिए 61 रन की अहम साझेदारियां की।

मेजबान टीम आयरलैंड के लिए हैरी टेक्टर ने अपना पहला इंटरनेशनल शतक जड़ा, उन्हीं के 113 रन के बूते टीम 300-9 तक पहुंच पाई। 22 वर्षीय बल्लेबाज प्रचंड फॉर्म में चल रहे हैं। भारत के खिलाफ भी दम दिखाया था। 109 गेंदों में 13 चौकों और दो छक्कों से इस बार शतक पूरा किया। अब दोनों टीमों के बीच मंगलवार को तीन मैचों की श्रृंखला का दूसरा मुकाबला खेला जाएगा।