हल्द्वानी
हल्द्वानी से निकलता बेतहाशा कूड़ा मुसीबत का सबब बन रहा है। गौला रोखड़ स्थित ट्रंचिंग ग्राउंड की चार हेक्टेयर जमीन कूड़े से पूरी तरह पट चुकी है। स्थिति इतनी भयावह हो गई है कि ट्रंचिंग ग्राउंड के बाहर डंप कूड़े के पहाड़ ने दूसरे 'ट्रंचिंग ग्राउंड' का रूप ले लिया है। सफाई वाहन सड़क किनारे कूड़ा पलटकर लौट रहे हैं। गौला बाइपास तक आ गया कूड़ा भीषण दुर्गंध फैला रहा है। केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने मार्च 2018 में वन विभाग की चार हेक्टेयर जमीन 30 वर्षों की लीज पर नगर निगम को दी थी। यहां सालिड वेस्ट मैनेजमेंट कंपोस्ट प्लांट बनना है। सितंबर 2018 में प्रोजेक्ट को वित्तीय एवं प्रशासनिक स्वीकृति मिली। दिसंबर 2018 में शासन ने प्रोजेक्ट के अनुरोध प्रस्ताव को मंजूरी दी। तय हुआ कि प्लांट को पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में चलाया जाएगा।

फरवरी 2019 में मामूली संशोधन के बाद विस्तृत परियोजना आख्या को टेक्नीकल एडवाइजरी कमेटी की मंजूरी मिल गई। जमीन मिलते ही यहां कूड़ा डंप होने लगा। हल्द्वानी के अलावा भीमताल, नैनीताल, भवाली, लालकुआं से कूड़ा आता है। हल्द्वानी से ही रोजाना 130 मीट्रिक टन कूड़ा निकलता है। चार साल में दो लाख मीट्रिक टन से अधिक कूड़े का पहाड़ जमा हो गया है।

डेढ़ करोड़ में हुआ सिविल वर्क
कंपोस्ट प्लांट का सिविल वर्क 2020 में पूरा हो गया। 1.50 करोड़ की लागत से बाउंड्रीवाल, गार्ड रूम, आफिस, शेड हाउस, प्लांट के भीतर संपर्क मार्ग का काम कराया गया। कंपोस्ट प्लांट के चार बार टेंडर के बाद कोई फर्म नहीं मिल पाई है। बाद में पुराने कूड़े के निस्तारण व प्लांट निर्माण के लिए अलग-अलग टेंडर की अनुमति मिली।

जून में ध्वस्त हो गई थी सुरक्षा दीवार
ट्रंचिंग ग्राउंड दो साल पहले ही भर गया था। बीच-बीच में आग लगने से कूड़े का पहाड़ कम हुआ व निगम को राहत मिलती रही। बरसात में कूड़े में आग लगने का मामला सामने नहीं आया। ऐसे में कूड़े बेतहाशा जमा हो गया। जून में कूड़े के दबाव से सीमेंट, सरिया के पिलर वाली ट्रंचिंग ग्राउंड की सुरक्षा दीवार गिर गई थी।

चार हेक्टेयर अतिरिक्त जगह मांगी
निगम ने जुलाई में डीएम के माध्यम से पेयजल निगम सचिव को पत्र लिखकर आंवलागेट चौकी के पास सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए पेयजल निगम को दी 49 हेक्टेयर जमीन से चार हेक्टेयर भूमि एक साल की लीज पर देने की मांग की है। अनुमति मिलते ही नया कूड़ा यहां डंप होगा।

नगर आयुक्त ने कही ये बात
नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने बताया कि समस्या है। हम समाधान निकाल रहे हैं। लीगेसी वेस्ट प्लांट की वित्तीय निविदा जल्द खुलने वाली है। जिसके तत्काल बाद काम शुरू होगा। जिलाधिकारी ने लीगेसी वेस्ट का काम शुरू होते ही नया कूड़ा अतिरिक्त मांगी जमीन पर डालने की अनुमति देने के लिए आश्वासन किया है।