मथुरा
 उत्तर प्रदेश के मथुरा में गैंगस्टर सुल्तान पर योगी सरकार की पुलिस ने बड़ा एक्शन लिया है. मथुरा के थाना गोविंद नगर पुलिस ने गुरुवार को गैंगस्टर सुल्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए उसकी 55 लाख रुपए मूल्य की संपत्ति को जब्त कर लिया. बता दें कि गैंगस्टर सुलतान के खिलाफ दस मुकदमे पंजीकृत हैं. पुलिस ने यह कार्रवाई उत्तर प्रदेश गिरोह बंद एंव समाज विरोधी क्रियाकलाप निवारण अधिनियम 1986 की धारा 14(1) के तहत की है.

गैंगस्टर सुल्तान की संपत्ति जब्त करने से पहले पुलिस ने मुनादी कराई और इलाके में जमकर ढोल बजवाया. पुलिस की इस कार्रवाई से इलाके में पशु कटान के अवैध कारोबार करने वालों में हड़कंप मच गया है. बता दें कि जहां पर संपत्ति जब्त की गई, वहां मुस्लिम आबादी अधिक है.

ढोल लेकर पहुंची पुलिस
दरअसल, संपत्ति जब्त करने थाना गोविंदनगर पुलिस ढोल लेकर गैंगस्टर सुल्तान के घर पहुंची. यहां पुलिस ने पहले ढोल बजवाया और फिर मुनादी कर क्षेत्र में बताया कि गैंगस्टर सुल्तान की संपत्ति को क्यों कुर्क किया जा रहा है. ढोल और मुनादी की आवाज सुन लोग एकत्रित हो गए।

पत्नी के नाम से बनाई अवैध संपत्ति
गैंगस्टर सुल्तान ने कट्टी खाना मनोहरपुरा में अवैध पशु कटान, पशु क्रूरता, शरीर संबंधी अपराध के जरिए धन कमाया. अवैध कामों के जरिए कमाए धन से 47.5 वर्ग मीटर में 2 मंजिल मकान बना लिया. सुल्तान ने यह मकान अपनी पत्नी के नाम से बनाया है.

पुलिस ने मकान किया कुर्क
थाना गोविंदनगर पुलिस ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रशांत नागर और सीओ सिटी के नेतृत्व में पुलिस बल के साथ सुल्तान के घर पहुंची, जहां पुलिस ने सुल्तान के द्वारा अपराध की दुनिया से अवैध रूप से कमाई चल, अचल संपत्ति को कुर्क कर लिया. पुलिस द्वारा कुर्क की गई संपत्ति की कीमत लगभग 55 लाख रुपए है.

कुर्की की कार्रवाई के दौरान घर की महिलाओं ने रोना धोना शुरू कर दिया और पुलिस से विवाद करने का प्रयास किया इसी बीच गैंगस्टर सुलतान के वकील भी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने पुलिस से बहस करते हुए माहौल को खराब करने का प्रयास किया जिस पर सीओ सिटी अभिषेक तिवारी ने घर की महिलाओं को समझा-बुझाकर पुलिस कार्रवाई में अवरोध उत्पन्न ना करने के निर्देश दिए तब कहीं जाकर महिलाओं ने कुर्की को संपन्न होने दिया .