आज के दौर में ऑनलाइन डेटिंग का चलन बढ़ता ही जा रहा है। इसके साथ बढ़ रहा है प्यार में धोखाधड़ी का कारोबार। दिव्या (बदला हुआ नाम) को भी ऑनलाइन डेट करने का परिणाम भुगतना पड़ा। दरअसल, दिव्या को डेटिंग ऐप के जरिए एक शख्स से प्यार हो गया। वो उससे चैट करने लगी। प्यार भरी बातें होने लगी। दिव्या इस बात से अंजान थी कि उसके साथ बहुत बड़ा गेम खेला जा रहा है।

पीआर के नाम पर लड़की को बनाया बेवकूफ
लड़के ने दिव्या को विदेश में सेटल होने का लालच दिया। उसने कहा कि वो विदेश में रहता है। दो महीने तक चैट से हसीन बातें होती रही। एक दिन लड़के ने दिव्या से कहा कि वो पीआर यानी परमानेंट रेसिडेंसी के लिए जहां रहता है वहां अप्लाई कर रहा है। उसे कुछ पैसों की दरकार है। प्यार में पागल दिव्या को लगा कि अगर परमानेंट रेसिडेंसी हो जाएगी तो वो भी वहां शिफ्ट हो जाएगी। इसलिए धीरे-धीरे करके उसने लड़के को करीब 9 लाख रुपए दे दिए।

लड़की का नंबर अडल्ट साइट पर डाला
जिस मकसद से शख्स ने दिव्या से मेलजोल बढ़ाया था वो तो पूरा हो गया इसलिए उसने लड़की का कॉल लेना बंद कर दिया। परेशान दिव्या ने जब पड़ताल की तो पाया कि वो पहले से शादीशुदा है। इस बात को लेकर दोनों के बीच खूब लड़ाई हूं। बात इतनी आगे बढ़ गई कि लड़का दिव्या से बदला लेने की ठान ली। उसने उसका मोबाइल नंबर अडल्ट साइट पर डाल दिया। इसके बाद तो दिव्या के पास गंदे-गंदे कॉल आने लगे।

डेटिंग ऐप की शिकार हो रही हैं लड़कियां
ऑनलाइन डेटिंग ऐप को लेकर मनोविज्ञानिक का कहना है कि अक्सर देखा गया है कि लड़कियां ऑनलाइन लड़कों की तस्वीरें देखकर इंप्रेस हो जाती हैं।वो उनके मोहब्बत में बहुत जल्दी पड़ जाती है। जिसकी वजह से धोखा खा जाती है। किसी इंसान को पसंद करना गलत नहीं हैं। लेकिन जल्दीबाजी में फैसला लेना गलता है। बिना किसी को देखें अगर वो कोई गलत डिमांड करता है तो उसे पूरा करने से पहले सौ बार सोचना चाहिए। लेकिन उस वक्त आंखों पर पर्दा पड़ जाता है और वो कुछ भी करने को तैयार हो जाती हैं जैसा कि दिव्या ने किया।

कैटफिशिंग और किटनफिशिंग में जाने अंतर
बता दें कि रिलेशनशिप में जानबूझकर गलतफहमी पैदा करने को कैटफिशिंग कहते हैं। इसमें वर्चुअली आप किसी को पसंद कर सकते हैं। इसमें आप वैसे बन जाते हैं जिसका कोई वजूद नहीं होता है। इस तरह आप सामने वाले को धोखा देते हैं। जबकि  किटनफिशिंग में आप रियल होते हो लेकिन खुद को बढ़ा चढ़ाकर पेश करते हो। जैसे उम्र को छिपाना, गंजेपन को छिपाना, खुद को खूबसूरत बनाकर पेश करना होता है।