राजगढ़
 जिले की ग्राम पंचायत बावड़ीपुरा के रामपुरिया मतदान केंद्र पर कराए गए पुनर्मतदान पर आए 6.52 लाख रुपये खर्च की वसूली पंचायत चुनाव के दिन मतदानकर्मियों से मारपीट कर मतपत्र फाड़ने और मतपेटी लूटकर ले जाने वाले 16 आरोपितों से की जाएगी। इस संबंध में प्रशासन ने सभी आरोपितों को नोटिस जारी कर दिए हैं। साथ ही आरोपितों को चेतावनी दी है कि अगर यह राशि जमा नहीं की गई तो बुलडोजर से उनके मकान ढहा दिए जाएंगे।

गौरतलब है कि पंचायत चुनाव के पहले चरण में 25 जून को मतदान के दौरान राजगढ़ जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत बावड़ीपुरा के मतदान केंद्र 22 रामपुरिया में फेटापुरा के लोगों ने मतपत्र व जरूरी दस्तावेज फाड़ दिए थे और मतपेटी लूटकर ले गए थे, जो दूसरे दिन दिन मिली थी। उन्होंने मतदान करा रहे कर्मचारियों के साथ मारपीट भी की थी। इस मामले में पीठासीन अधिकारी की शिकायत पर प्रकरण दर्ज किया गया था। इसके बाद 27 जून को पुनर्मतदान कराया गया।

इन 16 आरोपितों को किए नोटिस जारी

6 लाख 52 हजार रुपये की वसूली के लिए रामप्रसाद तंवर, बनेसिंह तंवर, करणसिंह तंवर, रायसिंह तंवर, नारायण पिता मानसिंह तंवर, मोहन पिता रघुनाथ तंवर, रमेश पिता भागचंद तंवर, रामदयाल पिता बजेसिंह तंवर, गोवर्धन तंवर, बजेसिंह पिता कनीराम तंवर, नाथूलाल तंवर, लालसिंह तंवर, कन्हैयालाल तंवर, संतोष पिता कैलाश तंवर, धनराज पिता भारतसिंह तंवर, भागचंद तंवर सर्व निवासी फेटापुरा थाना कालीपीठ को नोटिस जारी किए गए हैं।

पुनर्मतदान में मतदाताओं को मानसिक, शारीरिक कष्ट भी हुआ

जारी नोटिस में लिखा कि पुनर्मतदान में लगभग 100 पुलिसकर्मियों, 10 मतदान अधिकारी रिजर्व दल सहित, सेक्टर मजिस्ट्रेट, सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी, चुनाव प्रेक्षक व अन्य विभागों के कर्मचारियों को दो दिवस का वेतन, भोजन, चाय-नाश्ता, टेंट, बिजली, पेयजल, डीजल, पंखे, वीडियोग्राफी आदि पर कुल 6 लाख 52 हजार रुपये खर्च हुआ है। इसके अतिरिक्त मतदाताओं को मानसिक व शारीरिक कष्ट हुआ।