लखनऊ । उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा और उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य के दौरे को लेकर कोसनों के विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़क गई जिसमें चार किसानों सहित आठ लोगों की मौतहो गयी। लखीमपुर खीरी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने कहा कि हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हो गई। अन्य चार उस वाहन में सवार थे जो कथित तौर पर किसानों को कुचल रहा था।

इससे पहले, किसान संघों ने दावा किया था कि केंद्रीय मंत्री के काफिले में दो प्रदर्शनकारियों को एक वाहन ने कथित रूप से कुचल दिया था, जिसमें उनके बेटे और अन्य रिश्तेदार बैठे थे।

बाद में रिकॉर्ड किए गए दृश्यों में वाहनों को आग लगाते हुए दिखाया गया। इलाके में भारी पुलिस बल मौजूद है।
किसान संघों ने भारत भर के सभी किसान संगठनों से कल दोपहर से 1 बजे के बीच सभी जिलों में जिलाधिकारियों के कार्यालयों में विरोध प्रदर्शन करने का आह्वान किया है।

किसान संघों ने दावा किया है कि आठ किसान घायल भी हुए हैं।
किसानों ने मिश्रा के उस हालिया भाषण के विरोध में उनके काफिले को रोकने का फैसला किया था, जिसमें उन्होंने विरोध प्रदर्शनों को यह कहते हुए खारिज कर दिया था कि यह “10-15 लोगों का विरोध है और उन्हें लाइन में आने में सिर्फ दो मिनट लगेंगे।”

किसान संघ के एक नेता ने कहा “किसानों ने उपमुख्यमंत्री को उतरने से रोकने के लिए हेलीपैड का घेराव करने की योजना बनाई थी। वह कार्यक्रम समाप्त हो गया और अधिकांश लोग वापस जा रहे थे तभी तीन कारें आईं … और किसानों को कुचल दिया।”