भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्वालियर प्रवास के दौरान मुरार सर्किट हाउस परिसर में पौधा-रोपण किया। उन्होंने महोगनी के पौधे रोपे। सांसद वी.डी. शर्मा और विवेक नारायण शेजवलकर सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हम सभी को इस बरसात में अधिक से अधिक पौधा-रोपण करना है, जिससे हमारा ग्वालियर हरा-भरा शहर बना रहे।

मोहगनी पेड़ की लकड़ी से पानी के जहाज, नाव, फर्नीचर, सजावटी सामान आदि बनाये जाते हैं। इसका पौधा 12 साल में पूरा परिपक्व हो जाता है। साथ ही इसकी पत्तियाँ कैंसर, डायबिटीज, हाइपर टेंशन, जैसी बीमारियों के इलाज में उपयोगी हैं। इससे निकलने वाले तेल से मच्छर नहीं पनपते हैं। पंजाब में किसानों ने मोहगनी को रोजगार का जरिया बना लिया है। नगर निगम ग्वालियर द्वारा वर्षा ऋतु में मोहगनी के 1500 पौधे विभिन्न स्थानों पर रोपे जाएंगे।