दुबई । 17 अक्टूबर से संयुक्त अरब अमीरात यूएई और ओमान में शुरु हो रहे टी20 विश्व कप के लिए चयनित भारतीय टीम में बदलाव हो सकता है। आईसीसी ने बदलाव के लिए 10 अकटूबर तक का समय सभी टीमों को दिया है। विश्व कप के लिए चयनित युवा स्पिनर राहुल चाहर का प्रदर्शन आईपीएल के दूसरे चरण में अच्छा नहीं रहा है। आईपीए के बाद यूएई में ही टी20 विश्व कप खेला जाना है। ऐसे में चाहर के खराब प्रदर्शन के बाद बीसीसीआई की परेशानी बढ़ गयी है। चाहर को अनुभवी युजवेंद्र चहल की जगह शामिल किया गया था जिसपर काफी सवाल भी उठे थे। अब जबकि चहल का प्रदर्शन दूसरे चरण में निखरता जा रहा है उससे एक बार फिर उन्हें टीम में जगह देने की मांग उठने लगी है।

वहीं आरसीबी की ओर से खेल रहे चहल ने कहा है कि उन्हें अपने काबिलियत पर भरोसा है, जिसके चलते उन्हें विकेट मिलने में सहायता मिली है। चहल राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में मैन ऑफ द मैच रहे थे। आईपीएल 2021 के पहले चरण में चहल फॉर्म में नहीं थे, पर यूएई में वह शानदार गेंदबाजी कर रहे हैं। चहल ने अपने अंतिम दो मुकाबले में पांच विकेट लिए जिसके कारण आरसीबी को मैच जीतने में मदद मिली। चहल ने कहा आईपीएल 2021 के यूएई चरण में उनकी गेंदबाजी अच्छी रही है। चहल के लिए इस सत्र का पिछला हाफ बेहद खराब रहा था और वो इसी के चलते विश्व कप टीम से बाहर हो गए थे। चहल टी20 क्रिकेट में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। चहल ने 49 टी20 मैचों में 63 विकेट लिए हैं। ऐसे में यूएई में ही विश्व कप होने के कारण चयनकर्ता एक बार फिर उनके नाम पर विचार कर सकते हैं।